बांसी माघ मेले की सारी तैयारियां पूरी उद्घाटन कल



बांसी सिद्धार्थ नगर|मोनी अमावस्या के पर्व पर प्रतिवर्ष बांसी राप्ती नदी के तट पर लगने वाले 1 माह के माघ मेला एवं प्रदर्शनी की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं जिसका उद्घाटन गुरुवार को दोपहर 12:30 बजे प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह करेंगे।

वर्ष 1954 से लगने वाले ऐतिहासिक माघ मेला एवं प्रदर्शनी की शुरुआत पंडित राजेंद्र नाथ त्रिपाठी ने इलाहाबाद में लगने वाले कुंभ मेला से प्रेरित होकर किया था। मोनी अमावस्या के पर्व पर यह माल मेला बांसी में इसलिए लगाया जाता रहा की इस समय मौसम साफ रहता है और मेले में आने वाले लोगों को कोई परेशानी नहीं होती है। इस माघ मेले की न्यूज़ रखी गई तब मात्र 4 दिन का मेला लगा उसके बाद 1 सप्ताह फिर धीरे-धीरे 1 महीने तक यह माघ मेला एवं प्रदर्शनी बांसी में राप्ती नदी के तट पर लगता है।

बांसी माघ मेला को लगवाने में पंडित राजेंद्र नाथ त्रिपाठी का उस समय ग्रामसभा बांसी एवं बांसी के गणमान्य लोगों का पूरा सहयोग प्राप्त होता था जिसमें रामशंकर बुक सेलर मोतीलाल आर्य हजारीलाल बाबू गनेश प्रसाद का सहयोग मिलता रहा। यह माघ मेला पहले राप्ती नदी के किनारे बालू के रेत में लगता रहा पर बाद में पंडित राजेंद्र नाथ त्रिपाठी के विशेष प्रयास से माघ मेला एवं प्रदर्शनी को स्थाई जमीन प्राप्त हुई। वर्ष 1954 में इस माघ मेले का उद्घाटन प्रथम मुख्यमंत्री गोविंद बल्लभ पंत ने किया था। उस समय बस्ती के जिलाधिकारी मलिक बोस थे । उन्होंने स्व लिखित एक पत्रिका का भी प्रकाशन कराया था। 23 जनवरी से प्रारंभ होकर 28 फरवरी तक चलने वाले माघ मेला एवं प्रदर्शनी में मुख्य रूप से सर्कस काला जादू डांस पार्टी थिएटर हवाई झूला आदि माघ मेला के मुख्य आकर्षण होंगे।

माघ मेला के सकुशल संचालन के लिए मोहम्मद इरफान और मंगल चौरसिया को माघ मेला प्रभारी बनाया गया है साथ ही साथ माघ मेले में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिलाधिकारी के आदेश पर तहसीलदार अरुण कुमार वर्मा को माघ मेला मजिस्ट्रेट नामित किया गया है। आदर्श नगर पालिका परिषद बांसी के चेयरमैन मोहम्मद इदरीश पटवारी ने बताया है कि माघ मेला के दौरान मेले में शांति सुरक्षा के लिए थाना की स्थापना की गई है माघ मेला को चार सेक्टरों में बांटकर सभी क्षेत्रों में अलग-अलग सब इंस्पेक्टरों की तैनाती की जाएगी साथ ही साथ माघ मेला थाना के एक अलग प्रभारी होंगे और पूरा स्टाफ कार्य करेगा। तथा फायर बिग्रेड की गाड़ी पूरे माघ मेला अवधि तक मेले में मौजूद रहेगी। माघ मेला के आयोजन में अधिशासी अधिकारी अरविंद कुमार वरिष्ठ लिपिक रविशंकर गुप्ता गणेश मौर्य गिरीश पांडे अमरेंद्र कुमार जमील अहमद समेत सभी कर्मचारी पूरी तन्मयता से लगे हुए हैं।

Post a Comment

0 Comments