कोरोना की दूसरी लहर से 34 करोड़ नौकरियों पर संकट, जानें कामकाज के समय पर कितना असर

अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (आईएलओ) ने चेतावनी दी है कि अगर 2020 की दूसरी छमाही में कोरोना की एक और लहर आती है तो करीब 34 करोड़ नौकरियां जाने का खतरा हो सकता है। यह वैश्विक स्तर पर 11.9 फीसदी कामकाजी घंटों का नुकसान होने के बराबर है।


Post a comment

0 Comments