इटवा में विकास ने पकड़ी रफ्तार

4
DJLQìd²F¹FF SFZVF³Fe ¸FZÔ ³FWF¹FF ³F¦FS ´FÔ¨FF¹F°F d¶FÀIYFZWS .ªFF¦FS¯F

इटवा सहित बिस्कोहर दो-दो नगर पंचायत की न केवल सौगात मिली, बल्कि यहां पथ प्रकाश जैसी व्यवस्था सु²ढ़ हो गई है। शाम होते ही दोनों नगर मुख्यालय दूधिया रोशनी से जगमगा उठते हैं। इस बीच कई नई परियोजनाएं आईं, जिस पर कार्य भी प्रारंभ हो गया है।

इटवा जनपद सिद्धार्थनगर की इकलौती तहसील थी, जो नगर पंचायत के दर्जे से वंचित थी। दशकों से नागरिकों की उम्मीदें थीं, कि उनका भी क्षेत्र टाउन एरिया हो जाए, तो यहां विकास को नए पंख लग जाएं। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश द्विवेदी के प्रयास के चलते इटवा के साथ बिस्कोहर भी नगर पंचायत हुआ। दोनों नगर में पथ प्रकाश के अलावा विकास कार्यों को भी गति मिल चुकी है। इसके अलावा आठ करोड़ की लागत से बिस्कोहर में राजकीय महाविद्यालय, गोरया में 27 करोड़ रुपये की लागत से राजकीय पालीटेक्निक सहित खुनियांव में पशु अस्पताल, भिलौरी में आईटीआई जैसा तोहफा भी मिला। दो दर्जन सड़कें जहां पूरी हुईं तो वहीं झकहिया-कठेला-मधवापुर व शाहपुर-सिगारजोत नई सड़क व शनिचरा-रजवापुर, बढ़या-कठेला बड़े पुल की स्वीकृति मिली। दस करोड़ से अधिक की रुपये की मिनी स्टेडियम जैसी परियोजना की फाइल यूपी सरकार से पास होकर केंद्र सरकार के यहां जा चुकी है।

बस स्टेशन की स्वीकृति मिली है, इटवा बाजार में इसके निर्माण के अलावा संदलजोत में फायर स्टेशन का निर्माण भी प्रस्तावित है। नगर को मिला फायर स्टेशन, अप्रैल में शुरु होगा निर्माण सिद्धार्थनगर : लंबे समय से बांसी में फायर स्टेशन निर्माण की चली आ रही मांग को मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ ने अपने चार वर्ष के कार्यकाल में पूर्ण कर दिया। नगर में दो युनिट के फायर स्टेशन के निर्माण की उन्होंने बीते जनवरी माह में मंजूरी ही नहीं दिया बल्कि अविलंब जमीन भी उपलब्ध करा दी। अप्रैल माह से इसका निर्माण कार्य भी शुरु हो जाएगा।

यह भी पढ़ें:  सिद्धार्थनगर/बांसी: लेखपाल का रुपये मांगने का ऑडियो वायरल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here