पंचायत चुनाव की बहार, गंवई चौराहे हुए गुलजार

3

सिद्धार्थनगर: पंचायत चुनाव का शंखनाद हो चुका है। ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत व जिला पंचायत पद के लड़ाकुओं की जोर आजमाइश जारी है। इसमें गांव का माहौल उत्सव वाला हो गया। कटाई के इस समय में जब लोग खेतों में व्यस्त हैं फिर भी कुछ समय निकाल अपने अपने प्रत्याशियों के हार जीत की बहस छेड़े हुए हैं। सबसे मुफीद समय लोगों के लिए दोपहर का होता है लोग गांव के चौराहों पर स्थित दुकानों पर मजमा जमा घंटों बहस में मशगूल रहते हैं।

 

हर कोई अपने समीकरण की समीक्षा करने के साथ हर दिन गुणा, भाग लगाने में जुटा है । नये प्रत्याशी लिस्ट के सहारे अपना राजनीतिक भविष्य तय करने में जुटे हैं। तो वही पुराने दिग्गज प्रत्याशियों के समर्थक अपने मतदाताओं को जोड़कर अपना वोट बैंक बढा़ने के लिए प्रयासरत हैं। अधिकांश तो सीट बदलने का जश्न भी मना रहे। हर दिन चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की राजनीति चाय के चुस्कियों के साथ तय हो जा रही है, जिसमें मतदाता मौज लूटने में कोई कसर नही छोड़ रहे है।

पंचायत चुनाव को लेकर गंवई चौराहों की दुकानों पर सुबह शाम लगने वाले जमावडे़ में दुकानदार परेशान हो जा रहे। दुकानों में पड़ी बेंच पर लोग कब्जा जमाए घंटों जीत हार की बहस करते रहते हैं । इससे उनकी दुकानदारी प्रभावित हो रही। चाय के दुकानदार राम मिलन, बरसाती, कन्हैया आदि का कहना है कि जब तक चुनाव नहीं हो जाता तब हम लोगों की दुकानदारी भगवान भरोसे ही है। सभी गांव के ही हैं, इसलिए कुछ कहते भी नहीं बन रहा।

यह भी पढ़ें:  सिद्धार्थनगर/चेतिया बाज़ार: जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी शशि निषाद का धुआंधर क्षेत्र में दौरा, जनता के लिए लड़ते रहने का दावा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here