दवा लेने गए भाई की हादसे में मौत, घायल ने अस्पताल में दम तोड़ा

3

सिद्धार्थनगर जिले के बढ़नी कस्बे के लोहियानगर के एक परिवार पर शुक्रवार को मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा। बीआरडी मेडिकल कॉलेज, गोरखपुर में भर्ती हादसे में घायल भाई की दवा लेने गए युवक को ट्रक ने रौंद दिया। कुछ देर बाद अस्पताल में भर्ती घायल भाई की भी मौत हो गई।जिले के ढेबरुआ थाना क्षेत्र के सेवरा गांव के पास मंगलवार रात कार और बाइक की आमने-सामने की टक्कर में गुल्ले (20) पुत्र राजाराम यादव उर्फ गामा निवासी वार्ड नंबर तीन लोहियानगर, बढ़नी गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसका गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा था। गुल्ले की देखरेख के लिए पिता राजाराम और छोटा भाई गंगाधर यादव (18) अस्पताल में थे। शुक्रवार की सुबह गंगाधर अपने भाई के लिए दवा लाने अस्पताल के बाहर निकलकर सड़क पार कर रहा था। इसी दौरान एक ट्रक ने उसे रौंद दिया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। उसके कुछ ही देर बाद अस्पताल में भर्ती गुल्ले ने भी दम तोड़ दिया। एक साथ दो सगे भाइयों की मौत से परिवार में कोहराम मच गया।

 

राजाराम का कुनबा तबाह हो गया

 

बढ़नी कस्बे के लोहियानगर निवासी राजाराम यादव उर्फ गामा के तीन में से सबसे बड़े बेटे राम भरोसे की तीन वर्ष पहले ट्रेन से कटकर मौत हो गई थी। उसके बाद मंगलवार की रात मझला बेटा गुल्ले दुर्घटना का शिकार हो गया, अस्पताल में वह मौत से जूझ रहा था कि इसी बीच उसके सबसे छोटे बेटे गंगाधर को ट्रक ने रौंद दिया। अस्पताल में भर्ती जिस भाई गुल्ले के लिए गंगाधार दवा लेने गया था, उसकी भी जान नहीं बची। एक साथ दो बेटों की मौत के बाद राजाराम यादव के पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा। वहीं दो भाइयों की मौत की खबर पाकर इकलौती बहन राम सुंदरी पास-पड़ोस की महिलाओं के साथ बदहवास घूम रही थी। मोहल्ले में भी मातम पसर गया। राजाराम की पत्नी की मौत पहले ही हो चुकी है। उसकी आर्थिक स्थिति बहुत ही दयनीय है। बढ़नी कस्बे में पल्लोदारी करके बच्चों का भरण-पोषण करता है।

यह भी पढ़ें:  कछुओं के साथ एक व्यक्ति गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here