Siddharthnagar: हाईटेंशन तार की चपेट में आने से युवती की मौत

7

बयारा। आंधी के कारण सड़क पर टूटकर गिरे हाईटेंशन तार की चपेट में आने से युवती की मौत हो गई। परिजनों ने कानूनी कार्रवाई नहीं किए जाने का अनुरोध कर पुलिस को शव नहीं सौंपा। तार टूटकर गिरने के बावजूद आपूर्ति नहीं बंद किए जाने से लोगों में बिजली निगम के खिलाफ गुस्सा है।

भवानीगंज थाना क्षेत्र के बयारा गांव के रहने वाले रामचरण का गांव के चौराहे पर ही छोटा सा होटल है। शुक्रवार देर शाम आंधी-पानी में गांव के बाहर से गुजर रही 11 हजार वोल्टेज लाइन का तार टूटकर गिर गया था। शनिवार सुबह रामचरण होटल खोलने गए थे।

उनकी मदद करने के लिए पीछे-पीछे बेटी पुष्पा (20) भी कुछ सामान लेकर होटल जा रही थी। सड़क पर टूटे पड़े तार पर पुष्पा का पैर पड़ा और करंट की चपेट में आने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उधर से गुजर रहे लोगों ने घटना देखी तो पुष्पा के परिजनों को सूचना दी। गांव के कुछ लोगों ने बिजली निगम के अधिकारियों को फोन कर जानकारी दी तब जाकर बिजली आपूर्ति रोकी गई। इसके बाद पुष्पा का शव हटाया गया। बेटी की मौत से दुखी रामचरण ने बताया कि पुष्पा रफी मेमोरियल इंटर कॉलेज में कक्षा बारह की छात्रा थी। पढ़ने में तेज पुष्पा प्रशासनिक अधिकारी बनना चाहती थी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस से परिजनों ने कोई कानूनी कार्रवाई नहीं किए जाने का अनुरोध किया। प्रभारी निरीक्षक भवानीगंज रविंद्र कुमार सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिली थी लेकिन परिजनों ने रिपोर्ट करने और पोस्टमॉर्टम कराने से इन्कार कर दिया।

यह भी पढ़ें:  सिद्धार्थनगर/चेतिया बाज़ार: जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी शशि निषाद का धुआंधर क्षेत्र में दौरा, जनता के लिए लड़ते रहने का दावा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here